Hindi News day

Latest News in Hindi

बैंगन के प्रकार, उपयोग , फायदे और नुकसान

बैंगन के प्रकार, उपयोग , फायदे और नुकसान

बैंगन एक सब्जी है जिसे इंग्लिश में  brinjal कहा जाता है। Brinjal के अलावा इसे eggplant और aubergine के नाम से भी जाना जाता है। कई लोग बैंगन की सब्जी को खाना पसंद नहीं करते। वह बैंगन की सब्जी को देखकर मुंह चढ़ाते हैं, क्योंकि वह बैंगन के गुण नहीं जानते। बैंगन में खनिज और विटामिन अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए बैंगन की सब्जी खाना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है। बैंगन एक ऐसी सब्जी है जो वर्ष भर उपलब्ध रहती है। बैंगन का उत्पत्ति स्थल भारत को ही माना जाता है। बैंगन का पौधा लगभग दो ढाई फीट का होता है। आज हम बैंगन के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे, परंतु उसके पहले बैंगन कितने प्रकार होते हैं, उसे जान ले।

बैंगन के प्रकार

ग्लोब एगप्लांट :- इस बैंगन का आकार गोल होता है। इसका रंग डार्क बैंगनी होता है। ज्यादातर भारत में इस बैंगन का  इस्तेमाल किया जाता है।

जापानीज एगप्लांट :– इस बैंगन का आकार पतला होता है। यह बैंगन रंग में काला होता है। इस बैंगन का इस्तेमाल सूप और सलाद बनाने में किया जाता है। यह बैंगन खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है।

ग्रीन एगप्लांट :- इस बैंगन  का रंग ग्रीन  होता है। इस बैंगन का उपयोग ज्यादातर सब्जी और अचार बनाने में किया जाता है।

इंडियन एग प्लांट : यह बैंगन गोल आकार के होते हैं। इसकी सब्जी भी बहुत स्वादिष्ट बनती है।

बैंगन में मौजूद पोषक तत्व : बैंगन में विटामिन ई, विटामिन ऐ, विटामिन सी, फैटी एसिड, पोटैशियम, विटामिन के, मैग्निशियम, आयरन, फास्फोरस विटामिन बी 6 जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो बैंगन को गुणकारी बनाते हैं।

बैंगन के फायदे 

बैंगन को सब्जियों का राजा भी कहा जाता है। बैंगन में ऐसे बहुत से गुण है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। बैंगन में फाइबर मौजूद होता है जो हमें कैंसर से भी बचाता है। इनमें फाइबर और पानी ज्यादा मात्रा में होता है। बैंगन में कैलरी कम मात्रा में पाई जाती है। इसलिए जो लोग मोटापे से परेशान है, उनके लिए बैंगन एक बहुत ही अच्छा विकल्प है, क्योंकि बैंगन वजन घटाने में भी मदद करता है। बैंगन में और क्या गुण होते हैं, आगे हम विस्तार से जानते हैं।

हृदय स्वास्थ के लिए लाभकारी :- बैंगन में पोटैशियम, विटामिन बी 6 जैसे तत्व पाए जाते हैं ,जो हमारे हृदय के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। यह हमारे ब्लड प्रेशर  को कंट्रोल करते हैं।

 डायबिटीज की समस्या दूर करने में सहायक : बैंगन में कार्बोहाइड्रेट बहुत कम होते हैं। बैंगन में फाइबर तत्व ज्यादा मात्रा में पाये जाते हैं, इसलिए बैंगन डायबिटीज के रोगियों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है । बैंगन का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

पाचन तंत्र मजबूत करने में सहायक :- बैंगन में फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है। जिससे हमारा डाइजेस्टिव सिस्टम स्ट्रांग होता है, जिसके कारण कॉन्स्टिपेशन और कब्ज से बचा जा सकता है। बैंगन का सेवन करने से पेट कैंसर का खतरा भी  कम हो जाता है।

वजन घटाने में मददगार :- बैंगन में फाइबर और पानी अधिक मात्रा में पाये जाते हैं। इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है, जिस  कारण बैंगन वजन बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं।

कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित रखने में सहायक :- बैंगन में पोटैशियम मैग्नीशियम जैसे तत्व अधिक मात्रा में पाये जाते हैं। इसलिए जिन लोगों को कोलेस्ट्रॉल की समस्या है, उन्हें बैंगन का सेवन करना चाहिए, क्योंकि बैंगन का सेवन करने कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है। 

दांत का दर्द कम करने में फायदेमंद : बैंगन का रस निकालकर दांत पर लगाने से दांत के दर्द से राहत मिलती है। जिन लोगों को अस्थमा जैसी समस्या है , उनको बैंगन की जड़  का इस्तेमाल करना चाहिए।

सिगरेट छोड़ने में मददगार :- बैंगन में निकोटिन कम मात्रा में मौजूद होता है। इसलिए बैंगन  प्रकृतिक तौर पर सिगरेट छोड़ने के लिए मददगार होता है। इसलिए जो लोग सिगरेट छोड़ना चाहते हैं ,उन्हें  बैंगन का सेवन करना चाहिए।

 पेट की बीमारी में राहत :- अगर किसी को पेट फूलना, गैस, बदहजमी जैसी पेट समस्या है तो उन्हें बैंगन के सूप में हींग और लहसुन डालकर सेवन करना चाहिए। इससे पेट संबंधी समस्याओं से राहत मिलती है।

खून की कमी दूर करने में मददगार :- भुने हुए बैंगन का शक्कर के साथ सुबह खाली पेट सेवन करने से खून की कमी दूर होती है।

अच्छी त्वचा के लिए :- कई बार पानी की कमी के कारण त्वचा रूखी सुखी हो जाती है। बैंगन में मौजूद पानी हमारी त्वचा को मुलायम रखने में बहुत फायदेमंद होता है। जिनकी त्वचा रूखी सुखी होती है उनको बैंगन का सेवन करना चाहिए, क्योंकि बैंगन हमारी त्वचा को हाइड्रेट करता है और अंदर से नमी प्रदान करता है। जिसके कारण हमारी त्वचा का रूखापन दूर हो जाता है।

 कैंसर से बचाए :- बैंगन में मौजूद फाइबर हमारे डाइजेस्टिव सिस्टम को स्ट्रांग बनाता है । इसलिए बैंगन का सेवन करने से  पेट के कैंसर से बचा जा सकता है। बैंगन मे एक ऐसा तत्व मौजूद है जो कैंसर से बचाव के लिए लाभदायक होता है ।

लीवर संबंधी समस्या से बचाव :- बैंगन के पौधे की पत्तियों में निंद्राकारी तत्व मौजूद होता है जो कई दवाइयां बनाने में इस्तेमाल होता है। इसलिए बैंगन का सेवन करने से लीवर की बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

मधुमेह की समस्या से बचाव:- बैंगन में हाई फाइबर पाया जाता है। बैंगन में कार्बोहाइड्रेट जैसे तत्व कम मात्रा में मौजूद होते हैं, इसलिए बैंगन का सेवन करने से मधुमेह की समस्या से बचा जा सकता है।

दिमाग के लिए उपयोगी :- बैंगन के पौधे में मौजूद nutritious हमारे दिमाग के लिए बहुत फायदेमंद होते है ।

 अनिद्रा दूर करें:- भुने हुए बैंगन को शहद लगाकर चाटने से नींद अच्छी आती है ।

 पसीने से राहत :- जिन लोगों के हाथों और पैरों में पसीना आता है। उन्हें बैंगन के रस को हाथों की हथेलियों और पैरों के तलवे पर  लगाने से काफी फायदा होता है।

हड्डियों की मजबूती के लिए फायदेमंद:-  बैंगन में मौजूद पोषक तत्व हड्डियों की मजबूती के लिए फायदेमंद होते हैं।

बालों की मजबूती और लंबाई के लिए:- बैंगन में मौजूद पानी हमारे स्कैल्प को नमी देता है इसके कारण हमारे बालों की मजबूती बरकरार रहती है। बैंगन में मौजूद nutritious बालों की जड़ों को मजबूत करते हैं। बैंगन में मौजूद विटामिन ए और विटामिन ई वालों के झड़ने की समस्या को दूर करता है।

मुलायम और चमकदार त्वचा के लिए :- मुलायम और चमकदार त्वचा के लिए भी बैंगन उत्तम आहार है। बैंगन में मौजूद विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, फैटी एसिड, त्वचा के स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। बैंगन का सेवन करने से झुर्रियां दाग धब्बे त्वचा के रूखेपन से बचा जा सकता है।

एनीमिया की समस्या से बचाव :- बैंगन में मौजूद आयरन जैसे तत्व एनीमिया की समस्या को दूर करने में मददगार होते हैं।

बैंगन का उपयोग कैसे करें

*बैंगन का उपयोग सूखी सब्जी बनाने में किया जाता है।

*बैंगन से भरता भी बनता है जो खाने में बहुत स्वादिष्ट लगता है।

*  बैंगन का इस्तेमाल भैरवे बैंगन की सब्जी बनाने में भी किया जाता  है।

*बैंगन के जूस में शहद और एलोवेरा मिलाकर फेस पैक भी त्यार किया जाता है।

*बैंगन का उपयोग पकोड़े बनाने में भी किया जाता है।

बैंगन के पकोड़े बनाने की रेसिपी 

* सबसे पहले बैंगन को अच्छी तरह से धोकर गोल आकार में पतला पतला काट ले ।

* फिर एक बर्तन में बेसन ले । बेसन में प्याज हरी मिर्च बारीक काटकर मिक्स करें।

* फिर इसमें स्वाद अनुसार नमक, धनिया पाउडर, काली मिर्च पाउडर डालें।

*फिर पानी डालकर कर घोल त्यार कर ले।

* फिर इस गोल में कटे हुए बैंगन डालकर इनको गर्म तेल में फ्राई करे। इसी तरह आपके बैंगन के पकोड़े तैयार हो जाएंगे। 

 बैंगन के नुकसान 

बैंगन के हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदे हैं, परंतु  इसके साथ बैंगन के नुकसान भी है आओ आगे हम बैंगन से होने वाले नुकसान के बारे में विस्तार से जानते है ।                            

किन लोगों को बैंगन से परहेज करना चाहिए:-

 *जिन लोगों को बवासीर की समस्या है उनको को बैंगन का सेवन नहीं करना चाहिए।

*जिन लोगों को किसी प्रकार की एलर्जी है, उन्हें बैंगन के सेवन से परहेज करना चाहिए।

*जिन लोगों को एसिडिटी की समस्या होती है, उनको भी बैंगन के सेवन से परहेज करना चाहिए।

* गर्भवती महिला को भी बैंगन का सेवन कम ही करना चाहिए।

* शुगर के रोगी को भी बैंगन का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि बैंगन शुगर लेवल को कम करता है।

* जो लोग भूख से पीड़ित होते हैं उन्हें भी बैंगन का सेवन करने से परहेज करना चाहिए।

*अनिद्रा के रोगी को बैंगन का सेवन नुकसान पहुंचा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *