Hindi News day

Latest News in Hindi

ATM की फुल फॉर्म क्या है?

ATM की फुल फॉर्म क्या है?

इसका आविष्कार किसने किया? एटीएम के प्रकार, फायदे और सावधानियां

आइए जानते हैं कि एटीएम की फुल फॉर्म क्या है? हेलो फ्रेंड्स आप में बहुत से लोग ATM के बारे में जानते  होंगे अगर आप में से कोई ATM की फुल फॉर्म के बारे में नहीं जानता तो आप इस आर्टिकल को  ध्यान से पढ़ें ताकि आपको ATM के बारे में अवश्य जानकारी मिल सके इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि एटीएम क्या होता है? एटीएम का प्रयोग करने से क्या फायदे होते है? एटीएम काम कैसे करता है और एटीएम कितने प्रकार के होते हैं । इन सब की जानकारी के लिए आप पूरे आर्टिकल को लास्ट तक  पढ़ें ताकि आपको एटीएम के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो सके

ATM क्या है?(What is ATM?)

ATM एक ऐसी मशीन है, जिसके द्वारा हम जमा किए हुए पैसों को निकाल सकते हैं और आपने पैसे किसी और के अकाउंट में ट्रांसफर कर  सकते है   एटीएम का उपयोग करने से लोगों का काफी कीमती समय बर्बाद होने से बच जाता है पहले लोगों को पैसे निकालने के लिए बैंकों में कागजी कार्रवाई करनी पड़ती थी, जिससे उनका काफी समय बर्बाद हो जाता था । लेकिन आजकल 80% लोग पैसे निकालने के लिए एटीएम का प्रयोग करके अपना समय बचाते हैं

ATM की फुल फॉर्म क्या है ?

एटीएम की फुल फॉर्म है

A-Automated

T-Teller

M-Machine

हिंदी में ATM को स्वचालित टेलर मशीन कहा जाता है

विभिन्न देशों में एटीएम को cash point, Bankomat, Automatic Banking Machine आदि नामों से भी जाना जाता है

ATM का आविष्कार किसने और कब किया था ? 

ATM का  अविष्कार  जॉन शेफर्ड बैरन ( John Shepherd Barron ) और उनकी टीम द्वारा 1967  में किया गया था कैश निकालने वाली यह  एटीएम मशीन को सबसे पहले 27 जून 1967 को लंदन के Barclays बैंक में लगाया था भारत में इस एटीएम मशीन  को लगाने की शुरुआत 1987 में एचएसबीसी (HSBC) बैंक द्वारा मुंबई में की गई थी दुनिया के सबसे ऊंचे एटीएम की ऊंचाई  14,300 फीट है ।  दुनिया का सबसे ऊंचा यह  एटीएम सबसे पहले नाथूला में था यूनियन बैंक ऑफ इंडिया द्वारा सबसे ऊंचे एटीएम का संचालित किया गया था

ATM के प्रकार (Types of ATM)

एटीएम के कितने प्रकार होते हैं ,उसके बारे में हम आगे विस्तार से जानते हैं

ऑनसाइट एटीएम (Onsite ATM): यह एटीएम बैंक के अंदर होते हैं । यह एटीएम बैंक के इलावा किसी और जगह नहीं होते

ऑफसाइट एटीएम (Offsite ATM): यह  एटीएम बैंकों में नहीं होते इस प्रकार के एटीएम किसी शॉपिंग मॉल में, रेलवे स्टेशन, पेट्रोल पंप आदि स्थानों में हो सकते हैं

ऑनलाइन एटीएम (Online ATM): यह एटीएम बैंक के डेटाबेस से जुड़े होते हैं इसलिए आप अपने अकाउंट में मौजूद शेष राशि से अधिक नहीं निकाल सकते

ऑफलाइन एटीएम (Offline ATM): यह एटीएम बैंक के डेटाबेस से नहीं जुड़े होते। इसलिए आप अपने अकाउंट में मौजूद शेष राशि से अधिक राशि निकाल सकते हैं । ऐसा करने से बैंक आपको कुछ जुर्माना लगा सकता है

 येलो लेबल एटीएम (Yellow Label ATM): यह एटीएम कॉमर्स (E-commerce) से संबंधित होते है इस एटीएम के अंतर्गत कॉमर्स से संबंधित transaction किए जाते हैं

ऑरेंज लेबल एटीएम( Orange Label ATM): ऑरेंज लेवल एटीएम share transaction से संबंधित  होते है । इन एटीएम में  शेयर से संबंधित सारे transaction किए जाते हैं

ग्रीन लेबल एटीएम(Green Label ATM): यह एटीएम एग्रीकल्चर से संबंधित होते है इन  एटीएम का उपयोग कृषि  लेनदेन  के लिए किया जाता है ।

वाइट लेबल एटीएम (White Label ATM): इस प्रकार के एटीएम बैंक के नहीं होते बल्कि किसी अन्य कंपनी के द्वारा  खरीदे जाते हैं । यह एटीएम विभिन्न बैंकों का लोगो प्रदर्शित करते हैं।

ब्राउन लेवल एटीएम (Brown Label ATM): यह एटीएम बैंक के मुंद्रा प्रबंधन का काम ही संभालता है। यह एटीएम बैंक के खुद की नहीं होते बल्कि किसी अन्य कंपनी के होते हैं

पिंक लेबल एटीएम (Pink Label ATM): यह एटीएम महिलाओं से संबंधित होते है । वूमेन बैंकिंग से संबंधित इस एटीएम में women transaction अधिक होती है

ATM काम कैसे करता है?

एटीएम कार्ड में Magnetic स्ट्रिप लगा होता है जिसमे आपके अकाउंट की सारी जानकारी होती है । इसलिए आप जब भी अपना ATM card  Swap  करते हैं तो एटीएम मशीन को आपके खाते की  पूरी जानकारी प्राप्त हो जाती है । उसके बाद वह आपका पिन नंबर मांगता है उसके बाद हमारे खाते की सारी इनफार्मेशन सही होने पर ATM हमारा Transation करता है

एटीएम मशीन के फायदे

अगर आपके पास एटीएम कार्ड है तो आप अपनी जेब में ज्यादा पैसे लेकर रिस्क नहीं ले सकते आपको जब भी पैसों की जरूरत हो आप अपने नजदीकी एटीएम से पैसे निकलवा सकते हैं। अगर आपके पास एटीएम कार्ड है तो उसके बहुत से  फायदे होते हैं जिसके बारे में हम आगे जानते हैं

  • एटीएम मशीन 24 घंटे सर्विस देती है
  • एटीएम से आप आसानी से  पैसे जमा करवा सकते हैं ।
  • एटीएम से आप आसानी से cash withdrawal करा सकते हैं ।
  • एटीएम की मदद से आप एक बैंक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसे आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं ।
  • 24 घंटे में किसी भी समय एटीएम की मदद से पैसे निकाल सकते हैं ।
  • पैसे निकलवाने के लिए एटीएम कार्ड इस्तेमाल करने से आप लंबी लाइन में  खड़े होने से बच सकते हैं, जिसके कारण आपका कीमती समय  भी बच जाता है ।
  • आप आसानी से अपने एटीएम कार्ड का पिन change कर सकते हैं 
  • एटीएम के साथ अपना मोबाइल नंबर भी रजिस्टर करें ताकि जब भी  आप एटीएम से कोई लेनदेन करें तो उसकी पूरी जानकारी आपके  मोबाइल पर जाए ।
  • एटीएम की मदद से आप बिना किसी कागजी कार्रवाई के आसानी से पैसे निकलवा सकते हैं ।
  • एटीएम की मदद से आप बिल पेमेंट भी कर सकते हैं ।
  • एटीएम की मदद से आप अपने बैंक बैलेंस की जानकारी मिनटों में प्राप्त कर सकते हैं ।
  • एटीएम कार्ड गुम हो गया है तो आप को डरने की जरूरत नहीं क्योंकि कोई भी आप के एटीएम कार्ड का गलत  इस्तेमाल नहीं कर सकेगा क्यूंकि हर एटीएम कार्ड में चार अंको का पिन कोड डालना होता है । जिसके बारे में सिर्फ एटीएम कार्ड की मालिक को ही पता होता है। इसलिए कोई भी बिना कोड के आपके अकाउंट से पैसे नहीं निकल सकता
  • एटीएम की सुविधा हर बड़े शहर में होती है। इसके साथ ही छोटे से छोटे कसबे में  भी एटीएम की सुविधा उपलब्ध है । इसलिए हर कोई व्यक्ति चाहे वह शहर का है जा किसी गांव का एटीएम का इस्तेमाल करके आसानी से पैसे निकलवा सकता है ।

एटीएम का उपयोग करते समय किन सावधानियों का ध्यान रखना चाहिए ?

आप एटीएम का इस्तेमाल करके अपने पैसे निकलवा सकते है और आप एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में आसानी से मनी ट्रांसफर कर सकते हैं लेकिन एटीएम का इस्तेमाल करते समय कुछ सावधानियां ध्यान रखना पड़ता है, जिसके के बारे में हम आगे पढ़ते है

  •  अगर आपके पास एटीएम कार्ड है तो उसका पिन कोड किसी को ना बताएं । अगर आपके एटीएम का पिन कोड किसी को पता चल जाए तो वह आसानी से आपके पैसे चुरा सकता है ।
  • आप अपना पिन कोड किसी डायरी या किसी पेपर पर लिखने की बजाए उसे जुबानी याद रखें ।
  • अपने एटीएम की जानकारी किसी भी बाहरी व्यक्ति को ना दें ।
  • अशिक्षित लोग एटीएम कार्ड का इस्तेमाल करने से पहले इसके इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करें ताकि उनको किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े

 मुझे उम्मीद है मेरे इस आर्टिकल को पढ़ कर आपको एटीएम की बारे में काफी जानकरी मिली होगी ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *