Hindi News day

Latest News in Hindi

अजवाइन की तासीर, उपयोग, फायदे और नुकसान

अजवाइन की तासीर, उपयोग, फायदे और नुकसान

अजवाइन के छोटे-छोटे बीजों को औषधि गुणों का खजाना माना जाता है। वैसे तो अजवाइन को रसोई घर में मसाले के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन अजवाइन एक मसाला नहीं है। इसमें पोटेशियम, आयोडीन, कैल्शियम, फास्फोरस, कैरोटीन जैसे तत्व होते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही महत्त्व रखते हैं। अजवाइन हर एक की किचन में अवेलेबल होती है।अजवाइन आपके घर पर पड़ी हुई ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है, जो आपके पेट की बीमारियों को दूर भगाती है। अजवाइन सिर्फ हमारे खाने के स्वाद को नहीं बढ़ाता बल्कि कई बीमारियों से हमारी रक्षा भी करता है। अजवाइन का सेवन करने से पेट संबंधी कई बीमारियां जैसे कि एसिडिटी, खट्टी डकारे, पेट दर्द, उल्टी आना, बदहजमी में आराम मिलता है। अजवाइन की तासीर ठंडी या गर्म होती है इसके बारे में हम आगे विस्तार से जानते हैं।

अजवाइन की तासीर 

अजवाइन की तासीर गर्म होती है । इसलिए इसका सेवन  करने से शरीर की बायवादी खत्म होती है । जिसके कारण शरीर में  होने वाले दर्द से राहत मिलती है । अजवाइन की तासीर गर्म होने के कारण इसका सेवन करने से पेट के कीड़े मर जाते हैं। जिन लोगों को गर्मी ज्यादा लगती है और गर्मी के कारण उनके नाक से भी खून आने लगता है, जिसको नकसीर की समस्या बोलते हैं, उन लोगों को गर्मियों के दिनों में अजवाइन का सेवन करने से थोड़ा परहेज करना चाहिए। अगर उनको अजवाइन का सेवन करना है तो कम मात्रा में करना चाहिए।

अजवाइन का उपयोग 

कई लोग अजवाइन का उपयोग तो करते हैं परंतु उनको ज्यादा फायदा नहीं होता क्योंकि उनको पता नहीं होता कि अजवाइन का सेवन कब और कैसे करना है। आगे हम अजवाइन का उपयोग कब और कैसे करना है, इसके बारे में विस्तार से जानेंगे।

अजवाइन के उपयोग का सही समय

अजवाइन का उपयोग दोपहर के खाने में जरूर करना चाहिए क्योंकि दोपहर में पित्त बढ़ता है। इसलिए अजवाइन का सेवन दोपहर को करना चाहिए। अजवाइन को पित्त नाशक औषधि माना जाता है।

अजवाइन का सेवन कैसे करें 

पहले हमने ये जाना की अजवाइन का उपयोग कब करें। अब हम जानेंगे कि अजवाइन का सेवन कैसे करें | जिसे करने के साथ हमारे स्वास्थ्य को फायदा हो। आइए अजवाइन के सेवन का सही तरीका जानते हैं-

* जिनको भूख कम लगती है, उनको गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच अजवाइन का सेवन करना चाहिए। इसका सेवन करने से भूख लगने लगती है।

* अगर आपके पेट में दर्द है तो अजवाइन में थोड़ा सा काला नमक डालकर खाने से पेट दर्द में आराम मिलता है।

* डिलीवरी के बाद औरतों को 1 महीने तक अजवाइन के पानी का सेवन करना चाहिए। इसका सेवन करने से पेट नहीं फूलता।

*  दाल सब्जी बनाते वक्त अगर अजवाइन का इस्तेमाल किया जाए तो खाने का स्वाद और भी बढ़ जाता है । कुछ पकवान तो  ऐसे होते है जिसमे अजवाइन का इस्तेमाल ना हो तो पकवान का स्वाद ही ख़राब हो जाता है।

* अगर उसको गैस और एसिडिटी की समस्या है, तो भुनी हुई अजवायन में थोड़ा सा नमक डालकर निंबू के साथ चाटने से गैस से राहत मिलती है।

* सुबह खाली पेट अजवाइन के पानी का सेवन करने से मोटापा  कम होता है।

* सुबह गरम पानी के साथ अजवाइन का सेवन करने से पेट गैस में राहत मिलती है।

मोटापा कम करने के लिए अजवाइन का पानी बनाने की विधि:-

प एक गिलास पानी ले। उसमें एक बड़ा चमक अजवाइन का डालें। इसको पूरी रात भिगोकर रखें। सुबह इस पानी को  छान लें। फिर इसमें एक चम्मच  शहद का मिक्स करें।इस तरह  आपका अजवाइन का पानी त्यार है।

दूसरी विधि:-

एक गिलास पानी ले। उसको पैन में डाल  कर गैस  पर  रखें। फिर उसमें अजवाइन डालकर 5 से 7 मिनट तक उबालें। फिर उस पानी को छान ले। फिर उसमें एक चम्मच शहद  मिक्स करें। इसी तरह आपका अजवाइन वाला पानी  त्यार है।

अजवाइन का सेवन करने के फायदे

अजवाइन में आयोडीन, फास्फोरस, कैल्शियम, पोटैशियम, जैसे तत्व पाए जाते हैं ,जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं। अजवाइन का सेवन करने से और क्या-क्या फायदे हैं, उसके बारे में आगे विस्तार से जानते हैं-

गैस की समस्या दूर करें :- सूखे अदरक और अजवाइन को समान मात्रा में मिलाकर पीस के चूर्ण बना लें।इस चूर्ण का सेवन खाना खाने के बाद करने से पेट गैस की समस्या में  बहुत आराम मिलता है।

जोड़ों के दर्द में आराम :- अजवाइन का सेवन करने से जोड़ों के दर्द में भी आराम मिलता है। सरसों के तेल में अजवाइन का तेल समान मात्रा में मिलाएं। फिर उसमें थोड़ा सा कपूर मिक्स करें। फिर इसको थोड़ा सा गर्म करके जोड़ों पर लगाने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है।

दांतों के दर्द को दूर करें :- अगर आपके दांतों में दर्द है तो थोड़ी सी अजवाइन को तवे पर भून लें। फिर उसको पीसकर पाउडर त्यार कर ले। फिर उस पाउडर में थोड़ा सा नमक मिक्स करके दांतों पर घिसने से  दांतों का दर्द दूर हो जाता है।

किडनी के दर्द को ठीक करें :- अगर आपकी किडनी में दर्द है तो आप अजवाइन को पीसकर पाउडर बना लें।  फिर उस पाउडर को गुड के साथ दिन में तीन चार बार सेवन करने से किडनी के दर्द में आराम मिलता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद :- अजवाइन का सेवन गर्भवती महिलाओं के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से खून साफ होता है और पेट में पल रहे शिशु को भी स्वस्थ रखता है। अजवाइन का सेवन करने से गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को होने वाली कब्ज से राहत मिलती है।

कान के दर्द को ठीक करने में  सहायक:– सरसों के तेल में दो बूंदें अजवाइन के तेल की डालकर मिक्स करें। यह  बूंदे कान में डालने से कान के दर्द से राहत मिलती है। अजवाइन में मौजूद एंटीबैक्टीरियल कान में जमा हुए जवाब को हटाता है। जिसके कारण कान के दर्द में राहत मिलती है।

गठिया की समस्या में फायदेमंद :- अजवाइन में मौजूद एनेस्थेटिक गुण गठिया के रोगियों को सूजन और दर्द से छुटकारा दिलाता है। गठिया के रोगियों को अजवाइन का चूर्ण बना लेना चाहिए। फिर उस चूर्ण  की पोटली बनाकर दर्द वाली जगह पर सेक देने से आराम मिलता है।

खांसी जुकाम में फायदेमंद  :– अगर आपको खांसी है तो थोड़ी सी अजवाइन ले। उसमें थोड़ा सा नमक डालें। फिर उसको चबा चबा कर खाए। खाने के बाद गर्म पानी पी ले। ऐसा करने से खांसी में आराम मिलता है।

कब्ज की समस्या दूर करें:-  अजवाइन में थाइमोल की मात्रा अधिक होती है। इसलिए अजवाइन का गर्म पानी के साथ सेवन करने से कब्ज की समस्या दूर होती है।

हृदय के स्वास्थ में फायदेमंद :-  रोजाना गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच अजवाइन का सेवन करने से आपका कोलेस्ट्रॉल ठीक रहता है जो आपके हृदय के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है।

कील मुहांसों से छुटकारा :-  अजवाइन में मजूद थाइमोल सांस मुहांसों को विकसित होने से रोकता है। अगर आपके चेहरे पर बहुत पिंपल है तो अजवाइन का पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाने से कील मुहांसों से राहत मिलती है। आप नींबू के रस में  अजवाइन का पाउडर मिलाकर पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को  पिंपल्स पर लगाने से काफी फायदा होता है।कई  बार  पिंपल्स के ठीक होने के बाद भी चेहरे पर लाल निशान रह जाते हैं। उन पर यह पेस्ट बहुत फायदा करता है।

पाचन शक्ति बढ़ाता है :- अजवाइन के सेवन से पेट संबंधी बहुत सी बीमारियां दूर होती है। एक गिलास पानी में एक चम्मच अजवाइन उबालकर पीने से पाचन शक्ति बढ़ती है और पेट गैस, एसिडिटी, बदहजमी जैसी समस्या दूर होती है।

मोटापा दूर करें:– रोजाना खाली पेट अजवाइन का सेवन करने से मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और  मोटापा कम होने लगता है। मोटापा कम करने के लिए अजवाइन के पानी का सेवन एक उत्तम औषधि है।

पीरियड्स में होने वाले दर्द को कम करें :- अगर आपको पीरियड्स के दौरान दर्द होता है तो पीसी हुई अजवाइन में थोड़ा सा नमक डालकर सेवन करें। इसका  सेवन करने से दर्द में राहत मिलती है। पीरियड्स के दौरान आप इसका सेवन दिन में दो से तीन  बार भी कर सकते हैं।

नशे की लत से छुटकारा दिलाने में सहायक :- जिन लोगों को नशे की लत लगी होती है और वह इस नशे को छोड़ना चाहते हैं। उनके लिए अजवाइन एक उत्तम आयुर्वेदिक औषधि है। जिन लोगों को स्मोकिंग करने का मन करता है।  वह थोड़ी सी अजवाइन तवे पर रखकर उसको जलने दे। जली हुई अजवाइन के धुए को सूंघने से स्मोकिंग करने का मन नहीं करता। अजवाइन को चूसने से भी शराब की लत से छुटकारा पाया जा सकता है।

डायबिटीज की समस्या दूर करें :- सुबह खाली पेट अजवाइन के पानी का सेवन करने से डायबिटीज की समस्या में काफी राहत मिलती है।

डायरिया की समस्या दूर करने में सहायक :- अगर आपको डायरिया की समस्या है तो आप एक गिलास पानी में एक चम्मच अजवाइन का डालकर उबाल ले। फिर इस उबले हुए पानी को थोड़ा ठंडा करके दिन में दो-तीन बार सेवन करें। अजवाइन का पानी डायरिया में राहत दिलाता है।

स्तनपान करा रही महिलाओं के लिए फायदेमंद :– जो महिलाएं बच्चों को दूध पिलाती है उनके लिए अजवाइन के पानी का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। अजवाइन वाला पानी पीने से ब्रेस्ट मिल्क बढ़ता है।

त्वचा की समस्या दूर करें :- अजवाइन में मौजूद विटामिन ए और विटामिन सी जैसे तत्व आपके चेहरे की झुर्रियां कम करने में मददगार साबित होते हैं।अजवाइन की चाय पीने से आपकी बॉडी का खून साफ होता है। शरीर में खून संचार को दुरुस्त करने में अजवाइन बहुत ही फायदेमंद होती है।

सिर की जुओं का खात्मा करती है :- अगर आपने सिर में जुएं है, तो आप दो चम्मच अजवाइन ले। इसमें थोड़ी सी फिटकरी मिक्स करके पाउडर त्यार कर ले। फिर इस पाउडर को  छाछ में मिलाकर बालों की जड़ों में लगाएं। ऐसा करने से सिर की जुएं मर जाती है।

बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद:- अगर आपको सर्दी जुकाम हो गया है तो अजवाइन का धुआं आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। अजवाइन का धुआं सूंघने से सर्दी जुकाम में राहत मिलती है।

बहुमूत्र रोग दूर करने में सहायक :- जिन लोगों को बार बार पेशाब आता है। उनको अजवाइन में तिल मिलाकर सेवन करने से इस समस्या से राहत मिलती है।

सिर के दर्द से राहत :- अगर आपके सिर में दर्द रहता है तो अजवाइन की पत्तियों को पीसकर सिर पर लेप लगाने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

गुर्दे के दर्द से राहत :- अगर आपके गुर्दे में दर्द है तो अजवाइन के चूरन को सुबह शाम गर्म दूध के साथ लेने से गुर्दे के दर्द में आराम मिलता है।

अस्थमा के रोगियों के लिए लाभदायक :-  अजवाइन का धुआं सूंघने से अस्थमा के रोगियों को सांस लेने में आसानी होती है।

अजवाइन से होने वाले नुकसान 

अजवाइन हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है। किस हालात में अजवाइन हमें नुकसान पहुंचा सकती है। उसके बारे में हम आगे विस्तार से जानेंगे :-

 *अजवाइन का सेवन ज्यादा मात्रा में नहीं करना चाहिए, क्योंकि अगर हम अजवाइन का सेवन जरूरत से ज्यादा करते हैं। इससे हमें फायदा नहीं बल्कि नुकसान हो सकता है। अजवाइन का सेवन ज्यादा करने से सिर दर्द की समस्या सकती है।

 * गर्भवती महिलाओं को कब्ज और एसिडिटी होने पर ही अजवाइन का सेवन करना चाहिए। अजवाइन का ज्यादा सेवन करने से उनको नुकसान हो सकता है।

 * अगर आपको एसिडिटी है और आप अजवाइन का ज्यादा सेवन कर रहे हैं तो इससे एसिडिटी की समस्या और बढ़ सकती है।

* अजवाइन की तासीर गर्म होती है। इसलिए अजवाइन का अधिक सेवन करने से मुंह में छाले हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *